HomeCOMPUTERसुपर कंप्यूटर क्या होते हैं, इनका काम, गुण और विशेषतायें |भारत और...

सुपर कंप्यूटर क्या होते हैं, इनका काम, गुण और विशेषतायें |भारत और विश्व के टॉप-5 सुपर कंप्यूटर कौन से हैं ?

आज कंप्यूटर के बारे में कौन नहीं जानता। आज के समय मे कंप्यूटर का काम इतना बढ़ गया है, कि प्रत्येक व्यक्ति को इसके बारे में कुछ ना कुछ नॉलेज जरूर होती है लेकिन क्या आप जानते हैं सुपर कंप्यूटर क्या होता है सुपर कंप्यूटर के बारे में बहुत कम लोग जानते हैं कि सुपर कंप्यूटर क्या होता है सुपर कंप्यूटर कैसे काम करता है हमें सुपर कंप्यूटर की आवश्यकता क्यों पड़ी आज हम इसके बारे में विस्तार से जानेंगे। तो आइए आज कुछ नया सीखते हैं –

सुपर कंप्यूटर क्या है ?

सुपर कंप्यूटर साधारण कंप्यूटर की तुलना में तेज गति , संग्रह क्षमता वाले होते हैं। इनका प्रयोग रोजमर्रा के कार्यों में नहीं किया जा सकता। क्योंकि यह आकार में बहुत बड़े होते हैं सुपर कंप्यूटर का मुख्य कार्य मौसम की भविष्यवाणी करने , एनिमेशन का निर्माण करने , अंतरिक्ष यात्रा के लिए अंतरिक्ष यात्रियों को अंतरिक्ष में भेजने , बड़े वैज्ञानिक और शोध प्रयोगशालाओं में शोध व खोज करने इत्यादि में होता है
जैसे – PARAM , PARAM YUVA 2 ,PRATYUSH आदि।
सुपर कंप्यूटर एक समय में 100 से अधिक यूजर्स को सपोर्ट करता है जब से सुपर कंप्यूटर का निर्माण हुआ है तब से मनुष्य के लिए बहुत से काम आसान हो गए हैं

दुनिया का सबसे पहला सुपर कम्प्यूटर कैसे बना –

दुनिया का पहला सुपर कंप्यूटर “इल्लीआक – 4” है इसने 1975 में काम करना आरंभ कर दिया था इसे “डेनियल स्लोटनिक” ने विकसित किया था यह अकेले ही एक बार में 64 कंप्यूटरों का काम कर सकता था इसकी मुख्य मेमोरी में “80 लाख” शब्द आ सकते थे।

वर्तमान में दुनिया का सबसे शक्तिशाली सुपर कंप्यूटर –

“रिकेन और फुजित्सु” नामक जापानी वैज्ञानिक अनुसंधान संस्थान ने आज से 6 साल पहले “फुगाकू” विकसित करना शुरू कर दिया था यह दुनिया का सबसे शक्तिशाली सुपरकंप्यूटर है।

सुपर कंप्यूटर के लाभ –

• सुपर कंप्यूटर का उपयोग मौसम की भविष्यवाणी करने और एनिमेशन का निर्माण करने के लिए किया जाता है।
• इसका प्रयोग अंतरिक्ष यात्री को अंतरिक्ष में भेजने तथा वैज्ञानिक और शोध प्रयोगशालाओं में शोध व खोज करने के लिए किया जाता है।
• सुपर कंप्यूटर एक समय में 100 से अधिक यूजर्स को सपोर्ट करता है।
• सुपर कंप्यूटर की गति काफी तेज व संग्रह क्षमता काफी अच्छी होती है।
• यह मनुष्य की तुलना में कई गुना तेजगति से कार्य करता है।

सुपर कम्प्यूटर की विशेषताएं –

• सुपर कंप्यूटर का आकार एक सामान्य कमरे के बराबर होता है इसलिए इसे किसी निश्चित स्थान पर रखा जाता है।
• सुपर कंप्यूटर मल्टी-यूजर और मल्टी-टास्किंग होता है जिसमें एक समय में कई सारे यूजर काम कर सकते हैं और अपने टास्क को परफॉर्म कर सकते हैं।
• सुपर कंप्यूटर का प्रयोग गणितीय विवेचनाएं करने के लिए किया जाता है।
• आज सुपर कंप्यूटर का प्रयोग IT इंडस्ट्री से लेकर मेडिकल और शिक्षा के क्षेत्र में रिसर्च के लिए किया जा रहा है।

विश्व के पांच सबसे बेहतरीन सुपर कंप्यूटर –

जब से सुपर कंप्यूटर का निर्माण हुआ है इसने वैज्ञानिक संस्थान और मेडिकल शिक्षा क्षेत्र में क्रांति ला दी है तो चलिए हम जानते हैं विश्व के पांच सुपर कंप्यूटर के बारे में –

• Fugaku (Japan)
• Summit (USA)
• Sierra (USA)
• Sunway Taihulight (China)
• Selene (USA)

भारत के पांच सबसे बेहतरीन सुपर कंप्यूटर –

भारत में सुपर कंप्यूटर की शुरुआत सन 1991 में हो गई थी भारत का पहला सुपर कंप्यूटर PARAM – 8000 है। तो चलिए हम जानते हैं भारत के पांच सुपर कंप्यूटर के बारे में –

• PARAM Siddhi-AI
• Pratyush
• Mihir
• SAHASRAT
• AADITYA

सहस्त्र सुपर कंप्यूटर (Saharsa T – Cray xc40)- कर्नाटक के बेंगलुरु में भारतीय विज्ञान संस्थान में लगा सुपर कंप्यूटर “सहस्त्र” देश के शक्तिशाली सुपर कंप्यूटर में आता है।

आदित्य ( Aaditya – IBM/Lenove System) – महाराष्ट्र के मौसम विज्ञान विभाग “इंडियन इंस्टीट्यूट आफ ट्रॉपिकल” पुणे में लगा भारत का सुपर कंप्यूटर “आदित्य” शक्तिशाली सुपर कंप्यूटर में आता है।

TIFR Colour Bason – हैदराबाद में तैयार किया गया यह सुपर कंप्यूटर “टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ फंडामेंटल रिसर्च फैसिलिटी” में रखा गया है।

IIT DELHI HPC – ये सुपर कंप्यूटर IIT DELHI में रखा गया।

Param Yuva 2 – इस सुपर कंप्यूटर को महाराष्ट्र के पुणे में “सेंटर फॉर डेवलपमेंट आफ एडवांस्ड कंप्यूटिंग” C-DAC में रखा गया है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular