HomeNEW UPDATE2000 के नोट होंगे चलन से बाहर नोटबंदी 2.0

2000 के नोट होंगे चलन से बाहर नोटबंदी 2.0

2000 के नोट होंगे चलन से बाहर नोटबंदी 2.0

बैंकों में 23 मई से 30 सितंबर तक बदलाव या जमा करा सकेंगे , फिलहाल वैध मुद्रा भारतीय रिज़र्व बैंक ने सबसे बड़ी करेन्सी ₹2000 के नोट पर बड़ा फैसला लिया है। रिज़र्व बैंक ऑफ इंडिया ₹2000 के नोट को वापस लेगा। हालांकि
यह वैध मुद्रा बना रहेगा।

आरबीआई ने बैंको को सलाह दी है कि वो तत्काल प्रभाव से ₹2000 के नोट जारी करना बंद कर दें। आरबीआई ने कहा कि 30 सितंबर तक ₹2000 के नोट सर्कुलेशन में रहेंगे। यानी जिनके पास इस समय देश में ₹2000 के नोट हैं, उन्हें बैंक से एक्स्चेंज कराना होगा।

आरबीआइ ने प्रेस रिलीज में बताया कि साल 2018, 2019 में ही ₹2000 के नोट को छापना बंद कर दिया गया था।
आपको बता दें, साल 2016 में नवंबर में नोटबंदी के बाद ₹2000 का नोट लाया गया था,


जब नोटबंदी में 500 और ₹1000 के नोट को बंद कर दिया गया था। 2000 के नोट को बंद करने का फैसला क्लीन नोट पॉलिसी के तहत रिज़र्व बैंक ऑफ इंडिया ने लिया है। पिछले कुछ महीनों से मार्केट में ₹2000 के नोट कम नजर आ रहे थे। लोगों का कहना था के एटीएम से भी ₹2000 के नोट नहीं निकल रहे हैं।

इस संबंध में केंद्र सरकार ने भी संसद में जानकारी दी थी। आरबीआइ ने अब बड़ा फैसला लेते हुए ₹2000 के नोट को नहीं छापने का फैसला किया है और साथ ही जीतने भी नोट मार्केट में है। वो सब वापस होंगे जिसके लिए लोगों को 30 सितंबर तक का समय दिया गया है।

कारोबार :सरकार को लाभ

सरकार को 87,416 करोड़ का लाभांश आरबीआई ने केंद्र सरकार को वित्त वर्ष 2022-23 के लिए 87.416 करोड़ रुपये के साभारा भुगतान की शुक्रवार को मंजूरी दे दी। यह 2021-22 के 30.307 करोड़ के लाभांश से करीब तीन गुना अधिक है।

कुल नोटों में 2000 के नोटों की भागीदारी

31 मार्च 201810.8%
31 मार्च 202337.3%

3.62 लाख करोड़ रुपए मूल्य के 2000 के नोट हैं चलन में अभी इस्तेमाल नहीं हो रहा ₹2000 के नोट |लंबे समय से लग रहा था रोक का अनुमान लंबे समय से लग रहा था रोक का अनुमान दो हजार के नोटों की छपाई बंद होने के कारण अनुमान लगाया जा रहा था कि सरकार कभी भी इस नोट पर रोक लगा सकती है। लंबे समय से यह नोट बाजार में दिखने भी बंद हो चुके थे।

Future Forecast: Top 5 Jobs at High Risk of AI Replacement by 2030

The Kerala Story’ Movie Review: Adah Sharma’s Film

इस्तेमाल नहीं हो रहा ₹2000 के नोट

रिजर्व बैंक के मुताबिक, ऐसा देखा गया है कि 2,000 रुपये मूल्य के नोट का इस्तेमाल अब लेनदेन में आम तौर पर इस्तेमाल नहीं हो रहा है। इसी के साथ बैंकों के पास अन्य मूल्यों के नोट भी पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध होने से लोगों को नोट देने में कोई समस्या नहीं होगी। आरबीआई ने कहा, आरबीआई की स्वच्छ नोट नीति के अनुरूप 2,000 रुपये मूल्य के नोट को चलन से वापस लेने का फैसला किया गया है।

और पढ़ें

आरबीआई ने बैंकों को तत्काल नोट रोकने के निर्देश दिए |

आरबीआई ने कहा है कि आम लोग अपने 2000 रुपये के नोटों को बैंक खातों में पहले की तरह जारी रख सकते हैं। आरबीआई ने बैंकों से नोट देने पर तत्काल रोक लगाने को कहा है।

देश में 2000 रुपये के नोटों का प्रचलन बंद कर दिया गया है। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने शुक्रवार को यह घोषणा की। हालांकि यह नोट फिलहाल वैध मुद्रा बना रहेगा।

दूसरे शब्दों में, इस नोट को रखना अवैध नहीं होगा।आरबीआई ने कहा कि स्वच्छ मुद्रा नीति के तहत दो हजार के नोटों की चलन से वापस लेने का फैसला किया है। जिन लोगों के पास दो हजार रुपये के नोट हैं,

वह या तो इसे अपने बैंक खाते में जमा कर दें या इसे बदलकर पाच सौ या छोटे नोट ले लें जमा या अदला-बदली कानूनी दायरे में ही होनी लिए रकम की कोई सीमा नहीं है, लेकिन नोट बदलवाने के लिए समय तय की गई है।

बैंकों के कामकाज को सामान्य बनाए रखने केलिए 23 मई से सामान्य बैंकिंग कामकाज के दौरान एक बार में सिर्फ 10 नोट (यानी बीस हजार रुपये) ही बदलवाए जा सकेंगे। 30 सितंबर तक यह सहूलियत उपलब्ध रहेगी।

पर किसी तीसरे व्यक्ति (बैंकिंग फरिस्पोंडेंट्स) के हाथों एक खाताधारक सिर्फ चार हजार रूपये मूल्य (दो नोट) के ही नोट बदल सकता है। बैंकोको जारी दिशा-निर्देश में आरबीआई ने ग्राहकों को दो हजार के नोट जती करने पर भी रोक लगा दी है।

लोग रिजर्व बैंक को 19 क्षेत्रीय शाखाओं में भी नोट बदलवा सकते हैं। आरबीआई ने लोगों को इस बात के लिए प्रेरित करने को कहा है कि सभी नोट तय समय तक जमा कर दें घबराने की जरूरत नहीं

Question and Answer

1) क्या 2000 रुपये के नोट लीगल टेंडर रहेंगे?
हा 2000 रुपए के बैंक को की स्थिति बनी रहेगी।

2)क्या सामान्य लेन-देन के लिए अभी 2000 रुपये के नोटों काइस्तेमाल किया जा सकता है?
लोग अपने लेन-देन के लिए 2000 रुपये के नोटों का उपयोग जारी रख सकते हैं और
उन्हें भुगतान में भी प्राप्त करते रह सकते हैं। हालांकि उन्हें इस बात के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है कि
वे 30 सितंबर 2023 या उससे पहले इन नोटों को बैंक में जमा कर दें या फिर बदल

3)लोगों को 2000 रुपये के नोटों का क्या करना चाहिए?
लोग इन नोटों को जमा करने या बदलने के लिए बैंक शाखाओं से संपर्क कर सकते हैं। ये सुविधा 30 सितंबर तक
सभी बैंकों में सांगी। साथ ही इन्हें बदलने की सुविधा आरबीआई के निर्गम विभाग वाले 19 क्षेत्रीय कार्यालय में भी उपलब्ध है।

4)क्या बैंक खाते में 2000 के नोट जमा करने की कोई सीमा है?
बैंक में नियमानुसार किसी तरह के प्रतिदिनजमा किए जा सकेंगे।
बैंक

5) क्या खाता धारक अपने बैंक की शाखाओं से ही 2000रुपये के नोट बदल सकेगा?
एक गैर खाताधारक भी किसी भी बैंक शाखा से 20,000 रुपये क 2000 के नोटों को बदल सकता है।

6)यदि किसी को व्यवसाय या दूसरी जरूरतों के लिए 20,000 से ज्यादा नकद चाहिए तो?
वे अपने बैंक खाता में बिना प्रतिबंध के 2000 रुपये के नोट जमा कर सकते है। बाद में जमा रकम से अपनी जरूरत के लिए कैश निकाल सकते हैं।

7)क्या नोट बदलने की सुविधा के लिए कोई शुल्क देना होगा?
नहीं नोट बदलने की सुविधा निःशुल्क प्रदान की जाएगी।

8)क्या वरिष्ठ नागरिकों और दिव्योगों के लिए नोट बदलने की विशेष व्यवस्था होगी?
बैंकों को परिष्ट नागरिकों और दियागी लोगों को होने वाली असुविधाओं को कम करने के लिए करने के निर्देश दिए गए हैं।

9)यदि कोई बैंक 2000 रुपये का नोट बदलने या जमा करने से मना कर दे तो क्या करें?
व्यक्ति पहले बैंक प्रबंधन से संपर्क कर सकता है। यदि बैंक 30 दिनों में नहीं देता है तो रिजर्व बैंक एकीकृत लोकपाल योजना, 2021 के हतबीआई के शिकाय प्रणाली पोर्टल (ems.rbi.org.in) पर शिकायत की जा सकती है।

Randheer Rawat
Randheer Rawat
नमस्कार दोस्तों, मैं रणधीर रावत Hindiradio.in का Technical Author हूँ. Education की बात करूँ तो मैं एक B.com Graduate हूँ. मुझे नयी नयी चीज़ों को सीखना और दूसरों को सिखाने में बड़ा अच्छा लागता है.
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular