HomeNEW UPDATEस्वतंत्रता दिवस पर कौन सी 5 बड़ी घोषणाएं की गई- PM...

स्वतंत्रता दिवस पर कौन सी 5 बड़ी घोषणाएं की गई- PM मोदी द्वारा|गति शक्ति योजना

जैसे कि हमें पता है 15 अगस्त 2021 को भारत ने अपना “75 वां” स्वतंत्रता दिवस मनाया।
इससे अमृत महोत्सव का भी नाम दिया गया। इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने लाल किले पर झंडा तोलन किया। प्रधानमंत्री का यह “आठवां” झंडा तोलन था। इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने “पांच” महत्वपूर्ण घोषणाऐं की जोकि इस प्रकार है।

(1) Green Hydrogen mission.
(2) Gati Shakti Master plan.
(3) Girls Admission in Sainik school.
(4) Fortified rice scheme.
(5) e-commerce Platform for self help group.

आइए हम इन सभी के बारे में कुछ जानकारी प्राप्त करें।

ग्रीन हाइड्रोजन मिशन :-

इस मिशन के तहत आने वाले समय में भारत को हाइड्रोजन के उत्पादक एवं निर्यातक देश के रूप में अग्रणी बनाना है। इसके तहत भारत को ईंधन एवं ऊर्जा के क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनना है ।यह हाइड्रोजन उत्पादन से कार्बन उत्सर्जन में भी काफी हद तक कमी आएगी। यह ऊर्जा का नवीकरणीय स्रोत है, जिससे इस पर जोर दिया जा रहा है।

गति शक्ति मास्टर प्लान:-

इस योजना के तहत सरकार आने वाले समय में “100 लाख करोड़” रुपए खर्च करेगी। इस योजना में Manufacture sector का निर्माण किया जाएगा ताकि लोकल Manufacturers global लेवल पर अन्य देश के मैन्युफैक्चर से कंपीट कर सकें। इसके तहत seperate economic zone भी बनाया जाएगा। भारत को अगर वैश्विक शक्ति बनना है तो इसके लिए भारत का अर्थव्यवस्था का मजबूत होना बेहद जरूरी है और अर्थव्यवस्था की मजबूती के लिए हमें निर्यात को बढ़ाना होगा।इसके लिए modern infrastructure अति आवश्यक है।

मॉडर्न इंफ्रास्ट्रक्चर में ट्रांसपोर्ट , ports, मैन्युफैक्चरिंग zone Integrated infrastructure का होना अत्यंत आवश्यक है। Exports को बढ़ावा देने के लिए logistics cost का कम होना अत्यंत आवश्यक है। Logistics cost means रसद लागत मतलब माल को factory से customer तक पहुंचाने का खर्च।

Integrated infrastructure means माल परिवहन तथा रख रखाव की उचित तथा कम लागत पर व्यवस्था करना, यह खर्च कम करने में काफी हेल्प करता है। भारत का लॉजिस्टिक कॉस्ट 13℅ है एंड विश्व का औसत लॉजिस्टिक 5 से 6 ℅ है।

प्रधानमंत्री ने बताया भारत पहले 8 बिलियन के मोबाइल फोन आयात करता था। अब भारत 3 बिलियन मोबाइल फोन निर्यात करता है। भारत एक्सपोर्ट की सूची में वर्तमान में “19 स्थान” पर है। हमारा पड़ोसी चाइना (चीन) पहले स्थान पर है और उसका निर्यात हमारे निर्यात के लगभग 10 गुना है।

हमें चाइना के बराबरी करने के लिए एक्सपोर्ट को बढ़ाना होगा। इसके लिए हमें न्यू टेक्नोलॉजी लाना पड़ेगा तथा लॉजिस्टिक कॉस्ट को कम करने पड़ेगा। नीति आयोग के अनुसार 2050 इंडिया लॉजिस्टिक fuel में 3.11 ट्रिलियन डॉलर बचा सकता है, सुविधाजनक एवं कम लागत के परिवहन सुविधा के द्वारा।

सैनिक स्कूलों में लड़कियां :-

इस योजना के तहत अब लड़की भी सैनिक स्कूल में प्रवेश कर सकेगी। प्रधानमंत्री ने कहा कि काफी समय से मुझे इस पर पत्र अनुरोध आ रहा था कि लड़कियों को भी सैनिक स्कूल में प्रवेश मिले। अब लड़की भी सैनिक स्कूल में पढ़ाई कर देश सेवा मे अपना योगदान देगी। क्योंकि लड़कियां अब किसी भी क्षेत्र में कम नहीं है।

Fortified rice scheme:-

इसके तहत सरकारी योजना से मिलने वाले चावल में सुक्ष्म पोषक तत्व तथा विटामिन की मात्रा को बढ़ाया जाएगा। चावल में विटामिन ए, विटामिन b1 विटामिन B12, फोलिक एसिड आयरन और जिंक पाया जाता है! भारत में काफी संख्या में कुपोषित लोग पाए जाते हैं। यहां पर हर दूसरा महिला एनीमिया का शिकार तथा तीसरा बच्चा अविकसित होता है। ग्लोबल हंगर इंडेक्स में भारत का स्थान 104 देशों में से 94 है। जो कि सही नहीं है। इसलिए भारत कुपोषण को दूर करने के लिए यह कदम उठाएगा।

E-commerce plateform for self help group:-

प्रधानमंत्री ने कहा 8 करोड़ स्वयं सहायता समूह (SHG, self help group) के महिला काफी बेहतरीन वस्तुओं का निर्माण करती है। उनके इस उत्पाद को राष्ट्रीय तथा अंतरराष्ट्रीय स्तर पर लाने के लिए डिजिटल प्लेटफॉर्म बनाया जाएगा।

हमें उम्मीद है कि प्रधानमंत्री द्वारा घोषित इन सभी योजनाओं को जल्द से जल्द एवं बेहतरीन ढंग से लागू किया जाएगा ताकि आने वाले समय में भारत विश्व गुरु बन सके।

इस महत्वपूर्ण और अच्छी जानकारी को हर किसी के साथ शेयर करें। ऐसी ही पोस्ट पढ़ने के लिए हमारे साइट से जुड़े रहे।

धन्यवाद…

प्रकाश प्रदूषण क्या है
प्रधानमंत्री दक्ष योजना के लिए आवेदन, प्रक्रिया, डॉक्यूमेंट ?
भारत के 4 नए रामसर साइट्स
तालिबान क्या है
INS Vikrant kya hai

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular